फसले बहरा हूँ मैं Fasale Bahara Hoon Main Lyrics

Lyrics : Pradeep Chaudhary

Music : Sawan Kumar

Label : Saregama-HMV

Fasale Bahara Hoon Main Lyrics in English :

Fasale bahaara hoon main, fasale bahaara
Jalata angaara hoon main, jalata angaara
Meri aaghosh mein hai narmiyaan,
Meri madhoshiyon mein garmiyaan
Meri aaghosh mein hai narmiyaan,
Meri madhoshiyon mein garmiyaan
Tujhe paana hai socha hai mauka hai
Hone do hoti jo gustaakhiyaan
Fasale bahaara hoon main, fasale bahaara
Fasale bahaara hoon main, fasale bahaara

Maine toh dil diya, tune ki dillagi
Chaahat ke maayane tu samajha hi nahin
Maine toh dil diya, tune ki dillagi
Chaahat ke maayane tu samajha hi nahin
Ishq ke moti lutaaye maine teri raahon mein
Tune kaante hi chubhaaye
Bas meri nigaahon mein
Maine socha na tha tu badal jaayega
Iss kadar dard dega yuun tadpaayega
Iss kadar dard dega yuun tadpaayega
Sang dil sharaara hoon main, sang dil sharaara
Fasale bahaara hoon main, fasale bahaara

Mera junun dekha tune abhi kahaan
Chhinega tujhako mujhase
Koyi kaise meri jaan
Mera junun dekha tune abhi kahaan
Chhinega tujhako mujhase
Koyi kaise meri jaan
Aashqui jisane bhi ki
Woh khela apani jaan se
Sun woh patthar ke sanam
Yeh puchh le jahaan se
Tere bin saari duniya hai kis kaam ki
Mujhako parwaah nahi hai abb anjaam ki
Mujhako parwaah nahi hai abb anjaam ki
Arshe sitaara hoon main, arshe sitaara hoon
Fasale bahaara hoon main, fasale bahaara
Jalata angaara hoon main, jalata angaara.

Fasale Bahara Hoon Main Lyrics in Hindi :

फसले बहरा हूँ मैं
जलते अंगार हूँ मैं
मेरी आगोश में है नर्मियाँ
मेरी मदहोशियों में गर्मियां
मेरी आगोश में है नर्मियाँ
मेरी मदहोशियों में गर्मियां
तुझे पाना है सोचा है मौका है
होने दो होती जो गुस्ताखियां
फसले बहरा हूँ मैं
फसले बहरा हूँ मैं

मैंने तोह दिल दिया
चाहत के मायने तू समझा ही नहीं
मैंने तोह दिल दिया
चाहत के मायने तू समझा ही नहीं
इश्क़ के मोती लुटाये मैंने तेरी राहों में
तूने कांटे ही चुभाये
बस मेरी निगाहों में
मैंने सोचा न था तू बदल जाएगा
इस कदर दर्द देगा यूं तड़पाएगा

इस कदर दर्द देगा यूं तड़पाएगा
संग दिल शरारा हूँ मैं
फसले बहरा हूँ मैं

मेरा जूनून देखा तूने अभी कहाँ
छिनेगा तुझको मुझसे
कोई कैसे मेरी जान
मेरा जूनून देखा तूने अभी कहाँ
छिनेगा तुझको मुझसे
कोई कैसे मेरी जान
आश्कि जिसने भी की
वह खेले अपनी जान से
सुन वह पत्थर के सनम
यह पूछ ले जहां से
तेरे बिन सारी दुनिया है किस काम की
मुझको परवाह नहीं है अब्ब अन्जाम की
मुझको परवाह नहीं है अब्ब अन्जाम की
अर्शे सितारा हूँ मैं
फसले बहरा हूँ मैं
जलते अंगार हूँ मैं

0Shares
0